Vishwa Hindi Diwas 2024:विश्व हिंदी दिवस क्यों मनाते हैं, क्या है इतिहास?

हर साल 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है। इस दिन को मनाने का उद्देश्य हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और हिंदी भाषी समुदायों की भाषाई पहचान को मजबूत करना है।

विश्व हिंदी दिवस का इतिहास

World Hindi Day: विश्व हिंदी दिवस का इतिहास 1949 में शुरू हुआ था। उस वर्ष, संयुक्त राष्ट्र महासभा में पहली बार हिंदी बोली गई थी। इस ऐतिहासिक अवसर को यादगार बनाने के लिए, भारत सरकार ने 1975 में नागपुर में पहला विश्व हिंदी सम्मेलन आयोजित किया। इस सम्मेलन में 30 से अधिक देशों के प्रतिनिधि शामिल हुए थे।

2006 में, तत्कालीन भारतीय प्रधान मंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की। इस घोषणा के बाद से, हर साल 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है।

Vishwa Hindi Diwas का महत्व

Vishwa Hindi Diwas:विश्व हिंदी दिवस का महत्व कई मायनों में है। यह दिवस हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और हिंदी भाषी समुदायों की भाषाई पहचान को मजबूत करने में मदद करता है। यह दिवस हिंदी भाषा के साहित्य, संस्कृति और कला को बढ़ावा देने में भी मदद करता है।

विश्व हिंदी दिवस का महत्व निम्नलिखित बिंदुओं से स्पष्ट होता है:

  • यह दिवस हिंदी भाषा को एक अंतरराष्ट्रीय भाषा के रूप में स्थापित करने में मदद करता है।
  • यह दिवस हिंदी भाषी समुदायों के बीच आपसी समझ और सहयोग को बढ़ावा देता है।
  • यह दिवस हिंदी भाषा के साहित्य, संस्कृति और कला को बढ़ावा देता है।

विश्व हिंदी दिवस 2024 की थीम

Vishwa Hindi Diwas 2024 की थीम “हिंदी पारंपरिक ज्ञान और कृत्रिम बुद्धिमत्ता” है। यह थीम हिंदी भाषा के पारंपरिक ज्ञान और कृत्रिम बुद्धिमत्ता के बीच संबंध पर प्रकाश डालती है।

विश्व हिंदी दिवस 2024 के अवसर पर, भारत सरकार और विदेशों में स्थित भारतीय दूतावास और वाणिज्य दूतावास कई कार्यक्रमों का आयोजन करेंगे। इन कार्यक्रमों में हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार, हिंदी साहित्य और संस्कृति के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए विभिन्न गतिविधियां शामिल होंगी।

विश्व हिंदी दिवस मनाने के तरीके

विश्व हिंदी दिवस को मनाने के कई तरीके हैं। आप निम्नलिखित तरीकों से विश्व हिंदी दिवस मना सकते हैं:

  • हिंदी में बातचीत करें और हिंदी भाषा का उपयोग करें।
  • हिंदी साहित्य और संस्कृति का अध्ययन करें।
  • हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए जागरूकता अभियान चलाएं।

विश्व हिंदी दिवस एक महत्वपूर्ण दिवस है। यह दिवस हिंदी भाषा के प्रचार-प्रसार और हिंदी भाषी समुदायों की भाषाई पहचान को मजबूत करने में मदद करता है।

Also read: इंतजार खत्म! Rishabh Pant की वापसी से क्रिकेट फैंस का हुआ जश्न! जानें कब, कहां और किसके खिलाफ होगा पहला Match

Leave a Comment