वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर खुशियों का खजाना: दोष दूर करें,स्वास्थ्य, सुख, समृद्धि लाए 

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। यहाँ खाना बनता है, जो हमारे जीवन का आधार है। इसलिए, रसोई घर का वास्तु शास्त्र के अनुसार होना बहुत ही आवश्यक है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, रसोई घर अग्नि तत्व का प्रतिनिधित्व करता है। इसलिए, रसोई घर की दिशा, बनावट और उसमें रखी जाने वाली वस्तुओं का वास्तु शास्त्र के अनुसार होना चाहिए।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर की दिशा

वास्तु शास्त्र के अनुसार, रसोई घर की दिशा आग्नेय कोण (दक्षिण-पूर्व दिशा) में होना सबसे शुभ माना जाता है। इस दिशा में अग्नि तत्व का स्वामी शुक्र ग्रह होता है। शुक्र ग्रह धन, समृद्धि और सुख-सुविधाओं का कारक होता है। इसलिए, रसोई घर की यह दिशा घर में सुख-समृद्धि और धन-धान्य की वृद्धि करती है।

यदि रसोई घर आग्नेय कोण में नहीं बना सकते हैं, तो उसे दक्षिण या दक्षिण-पश्चिम दिशा में भी बनाया जा सकता है। इन दिशाओं में भी अग्नि तत्व का प्रभाव होता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर का बनावट

रसोई घर का निर्माण करते समय निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • रसोई घर चौकोर या आयताकार होना चाहिए।
  • रसोई घर में पर्याप्त रोशनी और हवा का आना चाहिए।
  • रसोई घर में खिड़कियाँ पूर्व या उत्तर दिशा में होनी चाहिए।
  • रसोई घर में पर्याप्त जगह होनी चाहिए ताकि खाना बनाने में आसानी हो।
  • रसोई घर में दरवाजा पश्चिम या उत्तर दिशा में होना चाहिए।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर में रखी जाने वाली वस्तुओं का स्थान

रसोई घर में रखी जाने वाली वस्तुओं का भी वास्तु शास्त्र के अनुसार होना चाहिए। निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • चूल्हा (गैस या अन्य) दक्षिण-पूर्व दिशा में होना चाहिए।
  • सिंक (बर्तन धोने की जगह) ईशान कोण में होना चाहिए।
  • रेफ्रिजरेटर उत्तर-पश्चिम दिशा में होना चाहिए।
  • माइक्रोवेव, मिक्सर, जूसर आदि उपकरण दक्षिण-पूर्व दिशा में होने चाहिए।
  • अनाज का भंडारण ईशान कोण में होना चाहिए।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर के वास्तु दोष

यदि रसोई घर का निर्माण वास्तु शास्त्र के अनुसार नहीं किया गया है, तो इससे वास्तु दोष उत्पन्न हो सकते हैं। इन दोषों के कारण घर में निम्नलिखित समस्याएँ हो सकती हैं:

  • आर्थिक समस्याएँ
  • पारिवारिक कलह
  • स्वास्थ्य समस्याएँ
  • दुर्घटनाएँ

यदि आपके घर में रसोई घर का वास्तु दोष है, तो इसे दूर करने के लिए आप किसी वास्तु विशेषज्ञ से सलाह ले सकते हैं।

वास्तु शास्त्र के अनुसार रसोई घर के वास्तु दोष दूर करने के उपाय

रसोई घर के वास्तु दोष दूर करने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:

  • यदि रसोई घर की दिशा वास्तु के अनुसार नहीं है, तो उसे बदलने के लिए किसी वास्तु विशेषज्ञ से सलाह लें।
  • यदि रसोई घर में पर्याप्त रोशनी और हवा नहीं आती है, तो खिड़कियाँ और दरवाजे खोलने से बचें। यदि आवश्यक हो, तो खिड़कियों और दरवाजों पर शीशे लगाएँ।
  • यदि रसोई घर में गंदगी और अव्यवस्था रहती है, तो उसे साफ और व्यवस्थित रखें।
  • यदि रसोई घर में पूजा का स्थान है, तो उसे तुरंत हटा दें।

इन उपायों को करने से रसोई घर का वास्तु दोष दूर हो सकता है और घर में सुख-समृद्धि और शांति का वातावरण बन सकता है।

Leave a Comment